विश्व का इकलौता मंदिर जो बना हैं बहुत बड़े विशाल समुद्री चट्टान पर , आप खुद देख लीजिये

विश्व का इकलौता मंदिर जो बना हैं बहुत बड़े विशाल समुद्री चट्टान पर , आप खुद देख लीजिये

इंडोनेशिया का नाम आते ही एक ऐसे देश की झलक सामने आता है जो दुनिया के सबसे बड़े मुस्लिम देश के रूप में फेमस हैं. लेकिन आपको यहां भारतीय संस्कृति की छाप देखने को मिलेगी। इंडोनेशिया के ऐतिहासिक निवासी हिन्दू और बौद्ध थे और यही वजह है कि वहां पर आपको हिन्दू सभ्यता का ज्यादा चलन मिलेगा। यहां पर हिंदू परंपराओं और मंदिरों की काफी महत्ता है। इंडोनेशिया में कई प्रसिद्ध मंदिर है, जो हर किसी को अपनी ओर आकर्षित करते है। आज हम आपको  इंडोनेशिया एक ऐसे प्रसिद्ध मंदिर के बारे में बताने जा रहे है, जिसकी गिनती विश्व के अत्यधिक खूबसूरत मंदिरों में होती है। आइए देखते है इंडोनेशिया के इस मंदिर का इतिहास और खूबियां।

भगवान विष्णु को समर्पित यह मंदिर इंडोनेशिया के बाली में एक विशाल समुद्री चट्टान पर बना हुआ है। अपनी प्राकृतिक सुंदरता के लिए प्रसिद्ध यह मंदिर16वीं शताब्दी निर्मित बताया जाता है। यह मंदिर बाली द्वीप के हिन्दुओं की आस्था का बड़ा केंद्र माना जाता है। इस चट्टान की चोटी पर पर्यटकों के लिए रेस्तरां बनाये गए हैं। बताया जाता है कि तट पर स्थित इस मंदिर एको हजारों वर्षों के दौरान समुद्री पानी के ज्वार से हुए क्षरण के फलस्वरूप यह आकृति प्राप्त हुई है, जो इस मंदिर को और भी खूबसूरत बनाए हुए है।

इस कारण से बना था ये मंदिर

इस मंदिर के बारे में माना जाता हैं कि  पुरा तनाह लोत का निर्माण 16वीं शताब्दी में पुजारी निरर्थ ने कराया था, जिसे इस स्थान की सुंदरता ने मोह लिया। कुछ मछुआरों ने उन्हें देखा और उन्हें उपहार प्रदान किए। उन्होनें मछुआरों से इस स्थान पर बाली के समुद्री देवता के मंदिर के निर्माण का आग्रह किया।