ईश्वर हम सब के दिलों में है, और जो उसे खोजतें हैं, उसे पा लेंगे, जब उन्हें ईश्वर की सबसे ज्यादा ज़रुरत होगी।

ईश्वर हम सब के दिलों में है, और जो उसे खोजतें हैं, उसे पा लेंगे, जब उन्हें ईश्वर की सबसे ज्यादा ज़रुरत होगी।

ईश्वर हम सब के दिलों में है, और जो उसे खोजतें हैं, उसे पा लेंगे, जब उन्हें ईश्वर की सबसे ज्यादा ज़रुरत होगी।