परमात्मा ने हर इंसान को एक जैसा बनाया है। अंतर सिर्फ हमारे मस्तिष्क के अंदर है।

परमात्मा ने हर इंसान को एक जैसा बनाया है। अंतर सिर्फ हमारे मस्तिष्क के अंदर है।

परमात्मा ने हर इंसान को एक जैसा बनाया है। अंतर सिर्फ हमारे मस्तिष्क के अंदर है।