जानिए आखिर क्या है झाड़ू से जुडी हुई प्रचलित मान्यताएं

जानिए आखिर क्या है झाड़ू से जुडी हुई प्रचलित मान्यताएं

हर कोई चाहता हैं कि उसका परिवार सुखी और स्वस्थ रहें। इसके लिए घर की सफाई भी जरूरी होती हैं जो कि झाड़ू की मदद से की जाती हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि झाड़ू से आपके घर की खुशियां जुड़ी होती है। जी हां, वास्तु में झाड़ू से जुड़ी कई ऐसी मान्यताएं बताई गई हैं जो आपके जीवन के कलह-क्लेश और धन से जुड़ी हुई होती हैं। आज हम आपको झाड़ू से जुड़ी उन्हीं मान्यताओं की जानकारी देने जा रहे हैं। तो आइये जानते हैं इसके बारे में।

1.लकड़ी का झाड़ू

घर में कभी भी लकड़ी के डंडे वाला झाड़ू नहीं रखना चाहिए। लकड़ी का इस्तेमाल हवन और यज्ञ में करना शुभ माना जाता है, ऐसे में घर का कूड़ा-कर्कट साफ करने के लिए इसका उपयोग घर में दुख और दरिद्रता लाता है।

2.मुख्य दरवाजे के पास

झाड़ू को कभी भी मेन डोर के पास नहीं रखना चाहिए। ऐसा करने से घऱ में नेगेटिव एनर्जी प्रवेश करती है।

3.नजरों से दूर

झाड़ू को हमेशा खूद की और घर में आने वाले मेहमानों की नजर से दूर रखें। सूर्यास्त के बाद कभी भी झाड़ू न लगाएं, ऐसा करने से घर में पैसों की तंगी आती है।

4.अगर लग जाए झाड़ू को पैर

कभी भी झाड़ू को ऐसी दिशा या फिर जगह पर न रखें कि उसपर आपका पैर आ जाए। अगर गलती से झाड़ू को पैर लग भी जाए तो एक बार हाथ जोड़कर मां लक्ष्मी से माफी जरुर मांग लें।

5.झाड़ू से जानवर को मारना

कुछ लोग घर में कुत्ता या बिल्ली घुस जाने पर उसे झाड़ू के साथ डराते या फिर भगाने की कोशिश करते हैं, मगर वास्तु की दृष्टि से ऐसा करना बेहद अशुभ माना जाता है। ऐसा करने से मां लक्ष्मी हमेशा के लिए आपके रुठ जाएंगी, घर में बीमारी और आलस्य हमेशा बना रहेगा।

6.पुराना झाड़ू

पुराने हो चुके झाड़ू को जल्द से जल्द फेंक दें, इसे अपनी आंखों के सामने रखने से घर में दरिद्रता आती है। साथ ही झाड़ू मारते वक्त इसे कभी भी खड़ा नहीं रखना चाहिए। ऐसा करने से घर में नेगेटिव एनर्जी बढ़ती है।