customize_post_detail_page

https://www.prabhubhakti.com/hanuman-ji-zinda-hai
इस कलयुग में आज भी ज़िंदा है हनुमान जी, जानिए !

इस कलयुग में आज भी ज़िंदा है हनुमान जी, जानिए !

इसका सबसे पहला प्रमाण तो ये ही है कि हममें से हर किसी ने भगवान राम और भगवान श्री कृष्‍ण के धरती से जाने की कहानियां सुनी हैं, लेकिन आज तक क्‍या किसी ने हनुमान के यहां से जाने की कोई कहानी सुनी है। न ही तो इससे जुड़ी किसी जानकारी का जिक्र किसी हिंदू ग्रंथ में किया गया है। इसके अलावा और भी हैं कुछ तथ्‍य हैं, जो ये साबित करते हैं कि आज भी भगवान हनुमान धरती पर अस्‍तित्‍व में हैं। 

1 . चिरंजीवी हैं हनुमान 
कहा जाता है कि हनुमान जी चिरंजीवी हैं। चिरंजीवी का हिंदी में मतलब होता है शाश्‍वत। इसका मतलब होता है, हमेशा अस्‍तित्‍व में रहने वाला। कुल मिलाकर हनुमान जी को हिंदू पुराणों के अनुसार इस धर्म के सभी भगवानों में से एकमात्र हमेशा धरती पर रहने वाला भगवान माना गया है। बताया जाता है कि वह इस धर्म के आठ महान शाश्‍वत किरदारों में से एक हैं। 

2 . इनके जाने की कहानी नहीं है पुराणों में भी 
बंदरों के भगवान, जिनके बारे में हम रामायण और महाभारत के समय से अपने इर्द-गिर्द होने को लेकर सुनते आए हैं। इनके अस्‍तित्‍व को हम त्रेता युग में भगवान राम के साथ होने से लेकर जानते हैं। इनके होने के प्रमाण द्वापर युग तक के मिले हैं, जो भगवान श्रीकृष्‍ण का समय था। अभी भी कलयुग में इनके होने के प्रमाण मिले हैं।  

3 . हनुमान मंदिरों के आसपास हमेशा मिलेंगे बंदर 
ये बात भी महज इत्‍तेफाक नहीं हो सकती कि ज्‍यादातर हनुमान मंदिरों के बाहर बंदरों की भीड़ लगी होती है। न यकीन हो तो किसी भी बड़े या छोटे हनुमान मंदिर के पास जाकर देखिए। आपको वहां बंदरों का झुंड बेहद आसानी से उछलकूद करता नजर आ जाएगा। इसका नजारा आप खुद ही इनके मंदिर के पास जाकर देख सकते हैं।

4 . इस बात के भी हैं साक्ष्‍य 
इस बात के भी जबरदस्‍त साक्ष्‍य हैं कि पवनपुत्र का अस्‍तित्‍व अभी भी दुनिया में बरकरार है, लेकिन वह आसानी से सामान्‍य लोगों की आंखों से नजर नहीं आते। वैदिक पुराणों में बताया गया है कि उनके साक्षात दर्शनों के लिए सच्‍ची भक्‍त और भगवान राम से सच्‍ची लगन की जरूरत पड़ती है। 

5 . राम नाम करेगा इनके दर्शन में मदद 
कहते हैं कि जहां कहीं भी भगवान राम का नाम लिया जाता है, हनुमान जी की उपस्‍थित वहां पर जरूर होती है। एक सच्‍चा राम भक्‍त जब पूरी श्रद्धा उन्‍हें याद करता है, तो उसे भगवान हनुमान दर्शन जरूर देते हैं और हमेशा उसके आसपास रहते हैं। इस कहानी में भी उतनी ही सत्‍यता है, जितनी अन्‍य साक्ष्‍यों में।