एक ऐसा मंदिर जहां सारी मन्नतें होती है पूरी

एक ऐसा मंदिर जहां सारी मन्नतें होती है पूरी

भगवान श्रीगणेश जिनकी लीला की दुनिया दीवानी , जिनके बारे में पुराणों में कहा गया है कि किसी भी आयोजन में सबसे पहले भगवान गणेश की पूजा होगी। ऐसे तो भगवान गणेश के कई मंदिर हैं पर मध्य प्रदेश के  धार जिले की मनावर तहसील के अंतर्गत मनावर से 2 किलोमीटर की दूरी पर टोंकी-मनावर मार्ग पर स्थित कालीकराय स्थान पर मानता गणेश मंदिर अपने आप में खास है. 

इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इस मन्दिर में मांगी गयी सभी मन्नतें पूरी हो जाती हैं. इस मंदिर में दूर दूर से लोग आते हैं. यहां पर गणेश जी की विशाल प्रतिमा विराजित हैं.मानता गणेश की प्रतिमा 250 वर्ष पहले की है। यह प्रतिमा वहां रहने वाले लोहार कालूजी को मान नदी में मिली थी। उन्होंने यहां छोटी देवली बनवा कर इसकी स्थापना थी। वर्तमान में मंदिर समिति ने यहां भव्य मंदिर, बगीचा, प्याऊ आदि बनवाई है।
 
मानता गणेश मंदिर पहाड़ी के ठीक नीचे शिवलिंग एक गुफा में विद्यमान है। पहाड़ से पानी रिसकर शिवलिंग के ऊपर टपकता रहता है। इसके ठीक नीचे मान नदी बहती है। सामने पश्चिम में पहाड़ पर गड़ी (किलेनुमा आकार, जो कि राजा के समय सुरक्षा हेतु बनाई जाती) स्थित है। यहां बहती हुई नदी व सूर्य अस्त का दृश्य बहुत ही आकर्षित करता है