जाने भगवान श्री गणेश से जुड़ें 15 रोचक तथ्य

जाने भगवान श्री गणेश से जुड़ें 15 रोचक तथ्य

अगर कभी भी पूजा होती है तो उसमें भगवान श्रीगणेश सबसे पहले पूजने वाले देवता माने जाते हैं. उनको बुद्धि और कौशल का देवता माना जाता हैं. इसलिए उनकी पूजा करने से अर्थ, विद्या, बुद्धि, विवेक, यश, प्रसिद्धि, सिद्धि सहजता से प्राप्त हो जाते है। भगवान श्री गणेश को सिर्फ भारत में ही नहीं  पूजा जाता हैं बल्कि उनको विश्व में भी बहुत ज्यादा पूजा जाता हैं. भगवान विश्व में कई देशों के प्रमुख आराध्य देव हैं। 

आज  भगवान गणेश के बारे में कुछ ऐसे रोचक तथ्य बताने जा रहे हैं जिससे आप अचरच में हो जायेंगे और इस बात के बता लगने के बाद आप दुगुनी श्रद्धा और भक्ति के साथ गणपतिजी की आराधना में जुट जाएंगे। आइये जानते है क्या वो तथ्य 

  1. जापान में भगवान गणपतिजी के 250 मंदिर हैं।
  2. जापान में श्रीगणेश को 'कंजीटेन' के नाम से जाना जाता है। वे वहां सौभाग्य और खुशियां लाने वाले देवता है।
  3. ऑक्सफॉर्ड में छपे एक पेपर के अनुसार श्रीगणेश प्राचीन समय में सेंट्रल एशिया और विश्व की अन्य जगहों पर पूजे जाते थे।
  4. गणेशजी की मूर्तियां अफगानिस्तान, ईरान, म्यान्मार, श्रीलंका, नेपाल, थायलैंड, लाओस, कंबोडिया, वियतनाम, चाइना, मंगोलिया, जापान, इंडोनेशिया, ब्रुनेई, बुल्गारिया, मेक्सिको और अन्य लेटिन अमेरिकी देशों में मिल चुकी हैं।
  5. श्रीगणेश की मूर्तियों और चित्रों की प्रदर्शनी दुनिया के लगभग सभी खास म्यूजियम और आर्ट गैलरियों में लग चुकी हैं। खासतौर पर यूके, जर्मनी, फ्रांस और स्वीट्जरलैंड में।
  6. यूरोप के कई देशों, कनाडा और यूएसए में कई सफल बिजनेसमैन, लेखक और आर्टिस्ट अपने ऑफिसों और घरों में भगवान गणेश की प्रतिमाएं और चित्र रखते हैं।
  7. हाल ही में बुल्गारिया के सोफिया के पास एक गांव में भगवान गणेशजी की एक प्रतिमा जमीन में से मिली। भारतीयों की तरह रोमन लोग श्रीगणेश की पूजा के साथ सभी काम शुरू करते थे।
  8. आयरिश लोगों का गणेशजी द्वारा भाग्य अच्छा रखने में विश्वास है।
  9. नई दिल्ली स्थित आयरलैंड एंबेसी में प्रवेश द्वार पर ही श्रीगणेश की मूर्ति स्थापित की गई है। आयरलैंड की एंबेसी पहली ऐसी एंबेसी है जहां श्रीगणेशजी के आर्शीवाद लिया जाता है।
  10. यूएसए की सिलीकॉन वेली में श्रीगणेश में सायबरस्पेस टेक्नोलॉजी का देवता माना जाता है।
  11. श्रीगणेश ज्ञान के देव हैं और उनका वाहन मूषक है। सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी माउस (मूषक) का इस्तेमाल करते हैं। इसके माध्यम से ही उनके विचार और आइडिया मूर्त रूप लेते हैं। इस वजह से कम्प्यूटर इंडस्ट्री ने गणेशजी को सिलीकॉन वेली में मुख्य देवता माना।
  12. गणेशजी ग्रीक सिक्के पर भी हैं। हाथी के सिर वाले भगवानों की तस्वीरें भारतीय-ग्रीक सिक्कों पर मिलीं। ये सिक्के करीबी प्रथम और तीसरी सेंचुरी बीसी के आसपास के थे।
  13. इंडोनेशिया के करेंसी के नोटों पर भी श्रीगणेश की तस्वीर होती है।
  14. वैदिक मान्यताओं के अनुसार, श्रीगणेशजी करीब 10,000 साल पहले प्रकट हुए। वेदों में उन्हें 'नमो गणेभ्यो गणपति' के साथ पुकारा गया। वे मुश्किलें खत्म करने वाले देवता हैं।
  15. महाभारत में उनके स्वरूप और उपनिषदों में उनकी शक्ति का वर्णन किया गया है।